भगवद् गीता विचार


Bhagavad Gita As It Is in Hindi final proofreading 💐🙏🌹🌟🌟🌟🌠💫✨

*|| भगवद् गीता विचार ||* अर्जुन बोले- हे मधुसूदन! मैं रणभूमि में किस प्रकार बाणों से भीष्म पितामह और द्रोणाचार्य के विरुद्ध लड़ूँगा? क्योंकि हे अरिसूदन! वे दोनों ही पूजनीय हैं। *अध्याय- 2 श्लोक- 4* Download Bhagavad Gita App

Create your website with WordPress.com
Get started
%d bloggers like this: